fastupnews

पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग जल्द शुरु करेंगी COP TALK नाम का शो. सलाखों के पीछे जाएंगे अपराधी Exclusive amethi

अमेठी एसपी का अनोखा प्रयास cop talk प्रोग्राम से अमेठी जिले में बदली हुई पुलिसिंग देखने को मिलेगी… इस पूरे मामले को लेकर अमेठी पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग ने बताया कि हम एक अनोखी पहल शुरु कर रहें हैं इस प्रोग्राम का नाम COP TALK दिया गया है इस प्रयोग में तीन-चार पॉइंट्स हैं जिसमें cop talk यानी पुलिस वाले पुलिस से संबंधित मामलों पर चर्चा करेंगे और इसके सुपर्विसिनारी ऑफिसर जो भी हैं उनमें क्षेत्राधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक, जिले के सभी एसपीओ के साथ जीडी प्रॉसीक्यूशन है और तमाम तरह के जो प्राइवेट लोग हैं उन सभी रिसोर्सेज को इस्तेमाल करेंगे और जिले में जो इन्वेस्टिगेशन यानी जांच का है वो होंगी। विवेचनाओं को इन्वेस्टिगेशन के स्तर को बेहतर करने के लिए इसमें हम लोग कोई स्पेसिफिक केस लेंगे और उसको लेकर के सेमिनार करेंगे जैसे किसी आम जन की विवेचना है उस विवेचना अधिकारी को एक जगह बुलाकर इस संबंध में किस तरीके की क्या लिखा पढ़ी होनी चाहिए किन-किन बारीकियों को उन्हें ध्यान रखना चाहिए और किन तरीके से काम करना है पास्को एक्ट में तमाम तरह की धाराएं हैं लेकिन अभी भी नए बैच को एसआई हैं जिनको पूरी जानकारी नहीं होती है या फिर उनके पास जानकारी का अभाव है या वो ठीक से लिखा पढ़ी नहीं कर सकते हैं जिसके कारण जो पुलिस की पैरवी कमजोर हो जाती है और जिन अपराधियों को हम अपने स्तर से न्यायालय भेजते हैं और वो न्यायालय से आरोप घोषित नहीं होता या सिद्ध नहीं होता है, जिससे अपराध आसानी से छूट जाते हैं क्योंकि उन पर अपराध सिद्ध नहीं हो पाता है

इसी तरह से महिला संबंधी जो भी अपराधी धारा 498 है इस तरीके की तमाम धाराएं हैं इन सब को लेकर हमें कार्यशाला का आयोजन करेंगे जो 304 जैसे मान लीजिए जो 304B के विवेचक हैं वो हमारे राजपत्रित अधिकारी हैं हमारे क्षेत्राधिकारी हैं उनको बुलाकर उसी कार्यशाला होगी और उनके जो भी ऑन गोइंग प्रोजेक्ट्स हैं जो विवेचना हैं उनको किस तरह की डिफिकल्टीज या फिर परेशानियां सामने आती हैं ऐसे मुद्दों पर चर्चा की जाएगी और इस तरह के कार्यक्रम से जिले में जो भी विवेचना ओं का स्तर है। इस प्रोग्राम से हमारा विवेचनाओं का जो स्तर है माननीय मुख्यमंत्री जी उत्तरप्रदेश पुलिस के डीजीपी साहब और हमारे सुपरवाइजर की ऑफिसर जो हैं सबकी यही प्राथमिकता है कि हमारा कनबेक्शन रेट है बढ़े और इसको लेकर हम जनपद स्तर पर कई जगह थाना स्तर पर क्षेत्राधिकारी स्तर पर एडिशनल के स्तर पर और खुद मेरे स्तर पर पॉस्को के भी कुछ के केस हैं जो हम लोगों ने स्वयं उस को ऐड किए हैं उसको हम लोग अपनी सुपरविजन में काम करेंगे जिससे उनकी प्रभावी पैरवी हो सके इसी क्रम में कि हमारी पैरवी कैसे प्रभावी हो सकती है विवेचना ओं में जिस से और मजबूत हो जाए और जैसे क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम में हम लोग और कनविक्शन रेट को हम लोग इन रूप कर सकें और इस सब के लिए हमारी जो बेसिक कड़ी है वह इन्वेस्टिगेशन है जहां गुणवत्ता जहां विवेचना में हमारा गुणवत्ता से विवेचना हो हमारा साक्ष्य संकलन अच्छा होगा हमारी लिखा पढ़ी अच्छी होगी हमारी जानकारी अच्छी होगी उसी के तहत हम यह प्रोग्राम स्टार्ट कर रहे हैं…।

अमेठी पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग ने बताया कि इस Cop Talk नाम के प्रोग्राम से जनपद में काफी परिवर्तन देखने को मिलेगा और हम उम्मीद करते हैं कि cop talk नाम का यह कार्यक्रम बहुत अच्छे परिणाम देंगे क्योंकि इसको बहुत अच्छे से प्लान किया गया है हमारे पास तमाम रिसोर्सेज हैं जनपद की जितने भी हमारे वरिष्ठ अधिकारी ने वह हैं हमारी प्राइवेट सेक्टर यहां पर बहुत अच्छी है लॉ की फैकल्टी बहुत अच्छी है उन सबके रिसोर्ट को इस्तेमाल करते हुए उन सब की जानकारी का एक फायदा मिलेगा हमारे इन्वेस्टिगेटर को और इस cop talk नाम के प्रोग्राम का एक बेहतरीन रिजल्ट देखने को मिलेगा।

REPORTER-ADITYA SHUKLA AMETHI

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*