fastupnews.com

बाढ़ की हालत बिगड़ी फर्रुखाबाद के काशीराम कॉलोनी में भी पहुंचा बाढ़ का विकराल कहर

गंगा और रामगंगा का जलस्तर बढ़ने से बाढ़ की स्थिति विकराल हो गई है पांचाल घाट पर गंगा खतरे के लाल निशान को स्पर्श की ओर बढ़ गई है फर्रुखाबाद के काशीराम कॉलोनी में पानी भर जाने से स्थिति और भी ज्यादा खराब हो गई है फर्रुखाबाद के काशीराम कॉलोनी में रहने वाले सभी वासियों को प्रशासन ने साफ तौर से अलर्ट पर रख दिया है नीचे के फर्स्ट फ्लोर को खाली भी कराया जा रहा है साथ ही साथ बिजली की व्यवस्था जो है पूरी तरह से चरमरा गई है और उसके बाद बिजली की कटौती भी की जा रही है फर्रुखाबाद नगर पालिका को भी साफ तौर से आदेश कर दिए गए हैं कि यहां पर रहने वाले किसी भी व्यक्ति को किसी भी तरह की दिक्कत का सामना ना करना पड़े जिसके बाद वहां पर पानी के टैंकर के साथ बायो टॉयलेट की भी व्यवस्था की जा रही है

गंगा और रामगंगा का पानी पढ़ने के साथ-साथ फर्रुखाबाद शहर से 2 किलोमीटर दूर स्थित काशीराम कॉलोनी के भीतर पानी प्रवेश कर गया है जिसके बाद बाढ़ के पानी ने काशीराम कॉलोनी को चारों तरफ से घेर लिया है प्रशासन पल-पल की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं सुबह से अधिकारियों का आना और जाना लगा हुआ है लेकिन कॉलोनी में रहने वाले लोगों का साफ तौर पर कहना है कि प्रशासन यहां पर हमारे साथ किसी भी तरह की कोई व्यवस्था नहीं कर रहा है बिजली से लेकर पानी तक के लिए हम लोग तरस रहे हैं साथ ही साथ वह दूसरी तरफ पानी से घिरे हुए हैं ना तो यहां पर बिजली की व्यवस्था है ना पानी की व्यवस्था है पानी फर्स्ट फ्लोर के भीतर घुस गया है और जिसके बाद वहां पर कीड़े मकोड़ों का भी वहां पर डर सता रहा है प्रशासन ना मच्छरों के लिए और बाकी बीमारियों के लिए भी कोई व्यवस्था नहीं की है बस अधिकारी आते हैं और देख कर चले जाते हैं

नरौरा बांध से 1940000 क्यूसेक पानी छोड़े जाने से फर्रुखाबाद के पंचाल घाट पर गंगा का जलस्तर 137 मीटर पर पहुंच गया है जो खतरे के लाल निशान से केवल 7 सेंटीमीटर नीचे रह गया है राम गंगा का जल स्तर 5 सेंटीमीटर बढ़कर खतरे के निशान से 40 सेंटीमीटर ऊपर पहुंच गया है को हरेली रामनगर से 32963 कि उसे पानी छोड़ा गया जिससे राम गंगा के जलस्तर में और वृद्धि होने की आशंका बढ़ गई है गंगा और राम गंगा का पानी बढ़ने से फर्रुखाबाद के काशीराम कॉलोनी चारों तरफ से पानी में डूब रही है और साथ ही साथ जो आसपास के खेत और गांव हैं वह भी पानी में डूबते जा रहे हैं जिससे फर्रुखाबाद से काशीराम कॉलोनी जाने का आवागमन भी प्रभावित हो गया है दोनों नदियों के रौद्र रूप से  गाँवोंनके हालात और भी ज्यादा बिगड़ गए हैं शौचालय बाढ़ के पानी में डूब गए हैं शौच जाने की समस्या भी बढ़ गई है ग्रामीणों ने कॉलोनी से सामान निकाल कर बाहर भी रख लिया है जिसके बाद प्रशासन लगातार पल पल  नजर बनाए हुए हैं कई लोगों ने अपना दुखड़ा रोते हुए कहा कि उनके कॉलोनी में बाढ़ का पानी भरा हुआ है और प्रशासन का कोई अधिकारी उनकी सुध लेने तक नहीं आया है

फर्रुखाबाद जिलाधिकारी मोनिका रानी ने सभी अधिकारियों कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं और उनसे जिला मुख्यालय पर रहकर राहत और बचाव कार्यों में लगने को कहा है साथी आज SDM सदर निशांत प्रताप सिंह और नगर पालिका अध्यक्ष मनोज अग्रवाल ने पहुंच कर कॉलोनी में रहने वाले बाढ़ पीड़ितों से उनका दर्द जाना और उनका पूरा सहयोग करने का भरोसा भी दिया है

Input By:Puneet mishra

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*