fastupnews

मुरादाबाद-रेलवे अब इटली के स्कूल की पढ़ाई से आगे बढ़ने की तैयारी

ट्रेन संचालन में लगातार पिछड़ रहें रेलवे अब इटली के स्कूल की पढ़ाई से आगे बढ़ने की तैयारी में है। इटली के मिलान शहर स्थित मैनेजमेंट स्कूल से ट्रेन संचालन की बारीकियां सीख कर वापस लौटे उत्तर रेलवे मुरादाबाद मंडल के डीआरएम ने कर्मियों को ट्रेन संचालन नियमित करने और रेलवे में स्वच्छता अभियान को बढ़ावा देने को कहा है। डीआरएम ने उम्मीद जताई है की आने वाले दस से पन्द्रह दिनों में ट्रेनों के संचालन में हो रही देरी को नियंत्रित कर लिया जाएगा। मिलान स्थित एसबीए बकौनी स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में रेलवे संचालन की ट्रेनिंग लेकर वापस लौटें डीआरएम ए के सिंघल ने रेल कर्मियों को ट्रेनिंग में सीखी बारीकियों से अवगत कराया। यात्रियों की उम्मीद के मुताबिक रेलवे को यात्रा के लिए सुगम बनाना और अत्याधुनिक सुविधाओं के जरिये रेल संचालन को नियमित करने के उद्देश्य से मिलान में ट्रेनिंग आयोजित कराई गई थी। इस दौरान तेरह मंडलों के डीआरएम को इटली भेजा गया था।

यह भी देखे:- मुरादाबाद भारतीय किसान यूनियन के दर्जनों किसानो ने बकाया गन्ना मूल्य भुगतान की मांग को लेकर किया अर्धनग्न प्रदर्शन

इटली की हाई स्पीड ट्रेन, मॉडर्न रेलवे स्टेशनों और अन्य देशों से आये रेल जानकारों से चर्चा के साथ ही ट्रेनिंग में स्वच्छता को लेकर विशेष जानकारियां साझा की गई। डीआरएम के मुताबिक भारत सरकार पहले से ही स्वच्छता अभियान को लेकर जागरूक है और अब यात्रियों को जागरूक कर रेलवे स्टेशन, ट्रेनों में भी अभियान को गति दी जाएंगी। स्वच्छता अभियान के लिए रेलवे स्टेशन पर उदघोषणा, स्क्रीन प्रदर्शन, ऑडियो क्लिप के साथ ही स्कूली बच्चों को भी रेलवे स्टेशनों पर विजिट कराकर रेलवे जागरूक करेगा।ट्रेन संचालन में हो रही देरी के चलते यात्रियों को हो रही भारी परेशानी को लेकर डीआरएम का कहना है कि पिछले काफी समय से रेलवे की पटरियों को दुरुस्त नहीं किया गया था । खराब हो चुकी पटरियों को बदलने के चलते ट्रेन संचालन में बिलंब हो रहा है। साथ ही गर्मियों के चलते पावर प्लांट के लिए देश के पूर्वी हिस्सों से हर रोज कोयले की आपूर्ति बहाल करना आवश्यक हो गया है इसलिए पैसेंजर गाड़ियों को तय समय पर पहुंचने में दिक्क्क्त हो रही है।

यह भी देखे:- मुरादाबाद-देश के कोने कोने में जाकर करा रहे रक्तदान

डीआरएम के मुताबिक अगले दस से पन्द्रह दिन में ट्रेन संचालन में हो रही देरी को दूर कर लिया जाएगा। इटली में ट्रेन संचालन में अधिक से अधिक दो मिनट की देरी को भी बड़ी नाकामयाबी माना जाता है लेकिन भारत में आजकल ट्रेनें चौबीस से छत्तीस घण्टे तक देरी से चल रही है। डीआरएम के मुताबिक इटली के मैनेजमेंट स्कूल में ट्रेनिंग के दौरान साझा हुई जानकारियों को लागू कर देरी के समय को कम किया जाना उनकी प्राथमिकता है।

Input By:Shariq Siddiqui

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*