fastupnews

कन्नौज -चार दिन पहले मैच के दौरान हुए विवाद को लेकर आज देर शाम फिर दोनों पक्षों के बीच जमकर हुई मारपीट

चार दिन पहले मैच के दौरान कुछ युवकों के बीच हुए विवाद में पंचायत के बाद समझौता हो गया। देर शाम दोनों पक्षों के बीच फिर जमकर मारपीट हुई। ईंट-पत्थर चले। इससे भगदड़ मच गई। सूचना पर पुलिस दोनों पक्षों को कोतवाली ले आई।

कन्नौज के थाना विशुनगढ़ रोड पर काली मठिया के निकट रहने वाले रीशू व सुहैल के बीच राम लीला मैदान पर मैच खेलने को लेकर विवाद हो गया था। इस पर मारपीट भी हुई थी। बाद में लोगों ने दोनों पक्षों के बीच समझौता करा दिया था। देर शाम दोनों पक्ष दोबारा आमने-सामने आ गए। इसके बाद लाठी-डंडे व हाकी चलीं। मिठाई की दुकानों पर समोसा सेकने को रखे हत्था भी युवकों ने उठा लिए। जमकर मारपीट के दौरान कुछ लोगों ने पथराव कर दिया। इससे भगदड़ मच गई। विशुनगढ़ रोड से निकले रहे लोगों ने अपने वाहनों को सड़क किनारे खड़ा कर दिया। करीब एक घंटे तक सड़क पर आरोपी हंगामा करते रहे। इसकी सूचना यूपी-100 को दी गई। पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो अराजकतत्व खिसकने लगे। पुलिस एक पक्ष से सुमित, राजा, सोंटी व अजय और दूसरे पक्ष से आशीष व शीलू को घायल अवस्था में कोतवाली लाई। इसी बीच दोनों पक्षों से दर्जनों लोग कोतवाली में पहुंचे।

सूचना पाकर अतिक्रमण अभियान में पुलिस बल लेकर लगे सीओ लक्ष्मी कांत गौतम भी मौके पर आए। कोतवाली में हंगामा कर रहे लोगों को लाठियां पटक कर खदेड़ा गया। इस दौरान कई लोगों को हिरासत में ले लिया गया। एक पक्ष के रीशू ने बताया कि मैच के विवाद की पंचायत होने के बाद उनके भाई अजय पुराने मकान पर मोहल्ले में जा रहे थे। मोहल्ले के दूसरे पक्ष के लोगों ने घेर कर लाठी-डंडे व सरिया से मारपीट की। इसमें उनके तीन चचेरे भाई भी घायल हो गए। वहीं, दूसरे पक्ष से सुहैल ने बताया कि उनका दोस्त निखिल मेडिकल स्टोर पर खड़ा था। इसी बीच यह लोग आ गए। रंजिश को लेकर मारने पीटने लगे। पथराव भी किया। बचाने का प्रयास किया तो उनको भी मारा पीटा। पंचायत करने गए युवक का सिर फोड़ा। कोतवाली में मामला आने के बाद संजीव राठौर दोनों पक्षों के बीच समझौता कराने के उद्देश्य से मौके पर गए। वहां पर अंधेरे में अराजकतत्वों ने पथराव कर दिया। इससे उनका भी सिर फट गया।

Input By:Sahid Ali khan

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*