फर्रुखाबाद – भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में से कार्यकर्ताओं को जिलाध्यक्ष ने धक्के मारकर भगाया , जमकर हंगामा

बीजेपी  सरकार में  ही भाजपा के  कार्यकर्ताओं  की इतनी बेकद्री हो रही है कि अब उन्हें दुत्कार कर बीजेपी के नेता  कार्यकर्ता सम्मेलन से भगा रहे हैं।  भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में कार्यकर्ताओं ने नेताओं को खरी खोटी सुनाते हुए जम कर हंगामा किया। कानपुर- बुंदेलखंड क्षेत्र के महामंत्री संगठन ओम प्रकाश सिंह के सामने कई कार्य्कर्तओं ने अपनी बात रखनी चाही तो उन्हें डांट कर बैठा दिया गया. स्थिति तब और बिगड़ गयी जब जिलाध्यक्ष ने एक पुराने कार्यकर्ता को सम्मेलन सभागार से बाहर जाने को कह दिया। मऊ दरवाजा के इलाके के कई कार्यकर्ता जिलाध्यक्ष से भीड़ गए और उलटी सीधी सुनाने लगे. जिलाध्यक्ष की सख्ती से कार्यकर्ताओं में रोष बढ़ता गया.
बजरिया के एक गेस्ट हाउस में भाजपा के शहर मंडल का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया था. कानपुर – बुंदेलखंड के क्षेत्रीय महामंत्री संगठन ओम प्रकाश सिंह मुख्य अतिथि थे. मुख्य अतिथि के भाषण तक जब किसी कार्यकर्ता की नहीं सुनी गयी तो एक कार्यकर्ता ने खड़े होकर कहा कि यह तो क्षेत्रीय संगठन मंत्री का स्वागत समारोह बन कर रह गया है. इस बार संगठन मंत्री ने उसे डांट कर बैठा दिया। इसके बाद सम्मलेन के द्वित्तीय चरण में कार्यकर्ताओं से अपनी बात कहने को कहा गया. कार्यकर्ता मंच की ओर अपनी बात रखने के लिए जा रहा थे तभी जिलाध्यक्ष सत्य पाल सिंह ने एक कार्यकर्ता से उसका परिचय पूछ दिया। उसने अपने को सेक्टर का उपाध्यक्ष बताया तो जिलाध्यक्ष बोले कि सेक्टर कमेटी में उपाध्यक्ष होता ही नहीं है.यही नहीं उन्होंने हंगामा करने वाले कार्यकर्त्ता से बाहर जाने को कह दिया। इस पर कार्यकर्ता कैलाश राजपूत भड़क गए और नेताओं से उपेक्षा का रोना रोने लगे. कई अन्य कार्यकर्ता भी उनके साथ हो गए. काफी देर तक हंगामा होता रहा. संगठन मंत्री ने कहा कि जब इलाके और नेता के लिए जान देने वाले कार्यकर्ता की नहीं सुनी जाएगी तो यह स्थिति तो आएगी ही.
भाजपा जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने बताया कि हमारे सांसद और विधायक कार्यकर्ताओं को पर्याप्त समय नहीं दे पा रहे हैं, इसलिए कार्यकर्ताओं के काम नहीं हो पा रहे हैं और उनमे रोष है. उधर भाजपा कार्यकर्ता कैलाश ने बताया कि मऊ  दरवाजा थानाध्यक्ष उनकी नहीं सुन रहे हैं. थाने में जाने पर उन्हें भगा दिया जाता है. पिपरगाँव से आये बाबा रामपुरी ने सांसद के खिलाफ गुस्सा उतारते हुए कहा कि उन्हें टिकट न दिया जाए. नहीं तो भाजपा शर्तिया चुनाव हार जायेगी।
input by- पुनीत मिश्रा

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*