अमेठी-सोती रही पुलिस,कोतवाली से चंद कदमो की दूरी पर बंद कमरे में दंपति की हत्या।

अमेठी -बात करते है अमेठी की…जहां कानून का भय ना सजा कि चिन्ता अपराधियो के सर पर खून सवार है बङी वारदाते पुलिस के नाकामी कि गवाही दे रही है साथ ही अपराध का गढ बन चुकी  अमेठी में खाकी का इकबाल बदमाशों के सामने बौना साबित हो रहा है हद तो तब हो गई जब अमेठी में मोहनगंज कोतवाली से मात्र चंद कदमो की दूरी पर स्थित एक बंद कमरे से दंपत्ति की लाश मिलने से हड़कंप मच गया थाने के सामने बंद कमरे में बांके से काटकर हुई डबल मर्डर की सूचना मिलते ही पूरे इलाके में सनसनी फैल गई और सैकड़ो लोग मौके पर इकट्ठा हो गये। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक फोरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुँचे… फोरेंसिक टीम ने पूरे कमरे की तलाशी ली और साक्ष्य को इकट्ठा कर शव को सील करवाया। मृतक हरिप्रसाद वर्मा तिलोई ब्लॉक के जगन्नाथपुर गांव के रहने वाले थे जो जामो ब्लॉक के अजबगढ़ स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात थे। हरिप्रसाद वर्मा का जमीन को लेकर अपनी बहू और बेटे से काफी दिनों से विवाद चल रहा था जिस कारण वो नाराज होकर थाने के सामने किराये के मकान में रहते थे..।

 

मामला मोहनगंज थाने से मात्र 100 मीटर की दूरी का है। जहाँ किराये के मकान में जूनियर हाईस्कूल में प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात हरि प्रसाद वर्मा अपनी पत्नी सावित्री के साथ पिछले चार महीने से रहते थे। आज सुबह हरिप्रसाद का दामाद जगन्नाथ प्रसाद अपने ससुर से मिलने आया। जगन्नाथ जैसे ही कमरे के बाहर पहुँचा कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था जिसके बाद खिड़की से देखा तो दोनों की लाश जमीन पर पड़ी थी जिसके बाद उसने तत्काल पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुँची पुलिस ने कमरे का दरवाजा बाहर से बंद करके पुलिस अधीक्षक और फोरेंसिक टीम को सूचना दी।सूचना के बाद मौके पर पहुँचे पुलिस अधीक्षक और फोरेंसिक टीम ने फिंगर प्रिंट के अलावा साक्ष्यो को इकट्ठा किया जिसके बाद शव को सील करके पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया…वही अगर दामाद की माने तो आज सुबह उसकी पत्नी के पास स्कूल से फोन आया कि आपके पिता जी दो दिनों से स्कूल नही आरहे है जिसके बाद पत्नी ने मुझे फोन किया और मैं अपने ससुर से मिलने उनके कमरे पर पहुँचा।कमरे में बाहर से ताला बंद था जिसके बाद खिड़की से देखा तो दोनों की लाश जमीन पर खून से लतपथ पड़ी थी।करीब आठ महीने पहले मेरे ससुर ने अपनी सारी जमीन मेरी पत्नी के नाम कर दिया था जिस कारण रोज घर मे विवाद होता था इसी कारण ये लोग घर से दूर यहाँ पर किराए के मकान में राह रहे थे..

 

वही मृतक दंपत्ति के बेटे की माने तो घर मे कोई विवाद नही था लेकिन कुछ महीने पहले पिता ने अपनी सारी जमीन अपनी बेटी के नाम कर दी थी।पिता जी बराबर मेरी मुलाकात होती थी।अभी तक ये घर पर रह रहे थे लेकिन चार महीने पहले यहाँ किराये के मकान में आकर रहने लगे…।

 

– एक कमरे के अंदर पति पत्नी की लाश मिली है। फोरेंसिक टीम के अलावा सभी पुलिस अधिकारी मौके पर पहुँचे है। पूरे मामले में मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्यवाही की जाएगी…।

 

Input by aditya shukla

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*