शामली – मर्डर का आरोपी पहुँचा थाने ,गिड़गिड़ा कर बोला मुझे गोली मत मारना ,मुझे बंद करदो |

 SP साहब गोली मत मारना बदमाश की मांग
शामली एस.पी. डाक्टर अजयपाल शर्मा का खौंफ बदमाशो में फैलता जा रहा है, पुलिस के द्वारा किए जा रहे लगातार एनकाउंटर के खौफ बदमाशों में साफ दिखाई देने लगा है। अब तक मामूली सी बात पर लोगों का खून बहाने वाले बदमाशों को अब अपनी जान के लाले पडे हुए हैं। अपनी मौत को सामने देखकर बदमाश अब पुलिस से गोली न मारने की बात कहकर अपराधों से तौबा करते नजर आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला झिंझाना थाने में देखने को मिला जहां एक हत्यारा खुद ही थाने पहुंचकर पुलिस से गोली न मारने की गुहार लगाता नजर आया। उसने पुलिस के सामने अपराध न करने की कसम भी खाई।

  दरअसल प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश से अपराध खत्म करने के लिए सभी जनपदों के पुलिस अधिकारियों को सख्त दिशा निर्देश दे रखे हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद पुलिस ने भी बदमाशों के खिलाफ अभियान चलाते हुए कई नामचीन बदमाशों को या तो मुठभेड में मार गिराया या उन्हें अपंग बनाकर जेलों में ठूंस दिया गया। शामली के एसपी डा. अजयपाल शर्मा ने भी जनपद में लोगों में आतंक का पर्याय बने कई बदमाशों को मुठभेड में ढेर कर दिया, इनमें कुख्यात बदमाश मुकीम काला का दांया हाथ कहा जाने वाला साबिर जंधेडी भी शामिल है, हालांकि इस मुठभेड में एक पुलिसकर्मी अंकित भी शहीद हो गया था जबकि थानाध्यक्ष भगवत सिंह भी बुरी तरह घायल हो गए थे। ताबडतोड मुठभेड में पुलिस ने कई बदमाशों को अपाहिज बनाकर जेल भेज दिया गया। शामली एस.पी. के एनकाउंटर से बदमाशों में खौफ भी साफ नजर आ रहा है।

मामूली सी बात को लेकर लोगों का खून बहाने वाले बदमाशों को अब अपनी जान के लाले पडे हुए हैं। ऐसा ही एक मामला झिंझाना थाने पर भी देखने को मिला। २१ जनवरी को झिंझाना क्षेत्र के गांव ख्वाजपुरा निवासी जाल्ला उर्फ तैयब की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। मृतक के परिजनों ने गांव के ही मुंशाद पुत्र यामीन समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था जिनमें से 4 आरोपी मुठभेड में मारे जाने के डर से न्यायालय में समर्पण कर जेल चले गए थे जबकि मुंशाद अभी तक फरार चल रहा था। हत्यारोपी मुंशाद ने झिंझाना थाने पहुंचकर पुलिस के समक्ष समर्पण करते हुए कहा कि उसे गोली न मारी जाए और अब वह कभी अपराध नहीं करेगा, इस दौरान वह पुलिस के सामने जान के लिए गिडगिडाता नजर आया।

हत्यारोपी मुंशाद ने बताया कि मै २१ जनवरी को झिंझाना क्षेत्र के गांव ख्वाजपुरा निवासी जाल्ला उर्फ तैयब की गोली मारकर हत्या में शामिल था।आज थाने में पेश हुआ हूँ । कि कही कप्तान सहाब गोली ना मार दे उसी डर से फरार था। मै एस.पी.सहाब से गुहार लगाता हूँ की मुझे गोली ना मारे। उधर इस मामले में कहना है कि गुहार लगाने वाला बदमाश हत्या के मामले में वांछित चल रहा था और आज झिंझाना थाना क्षेत्र में खुद पेश हुआ है
INPUT BY SHARAVAN SHARMA

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*