मुजफ्फरनगर-गैंगरेप के चार महीने बाद हुआ खुलासा

मुजफ्फरनगर में एक नाबालिग  युवती के साथ गैंग रेप का सनसनी खेज मामला सामने आया हैं । युवती के साथ गैंग रेप की घटना को अंजाम लगभग 4 माह पहले दिया गया था मगर 4 माह बाद घटना का खुलासा उस समय हुआ जब युवती गर्भवती हो गई । और अब युवती के परिजनों ने तीन युवकों के खिलाफ थाने में गैंगरेप का मुकदमा दर्ज करा कर कार्रवाई की मांग की है ।

पी सरकार द्वारा जहां एक तरफ महिलाओं को सुरक्षा देने की बात कही जाती है और एंटी रोमियो स्क्वायड जैसे कई अभियान चलाकर सुरक्षा देने के दावे किए जाते हैं। वे सभी दावे समय-समय पर खोखले साबित होते आ रहे हैं ऐसा ही एक और मामला जनपद मुजफ्फरनगर में देखने को मिला है जहां युवती के साथ 4 माह पहले गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया और 4 माह तक युवती को डरा-धमका कर रखा गया युवती ने तीनों युवकों के डर से गैंगरेप की घटना को छुपाए रखा मगर अब चार माह बीत जाने के बाद गैंगरेप की घटना का खुलासा उस समय हो गया जब युवती गर्भवती हो गई युवती के गर्भवती होने पर परिजनों को पूरे मामले की जानकारी हुई तो परिजनों ने थाने पहुंचकर पूरा मामला पुलिस को बताया और मुकदमा दर्ज करा कर कार्रवाई की मांग की

दरअसल मामला चरथावल थाना क्षेत्र के छिमाऊ गांव का है जहां की रहने वाली एक नाबालिग युवती के साथ तीन युवकों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया युवती का कहना है कि सुदेश , बंटी और सर्वेश जोकि उसी के गांव के रहने वाले हैं इन तीनों वहशी दरिंदों ने युवती को अपना शिकार बनाया और उसके साथ बारी-बारी से गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। गैंगरेप की घटना को अंजाम देने के बाद तीनों युवकों ने युवती को डरा धमका कर रखा ताकि युवती पूरे मामले की पोल ना खोल दे और डरी-सहमी युवती 4 माह तक चुप बैठी रही इस घिनौनी वारदात की घटना को किसी भी व्यक्ति के सामने उजागर नहीं किया , मगर 4 माह बीत जाने के बाद जब युवती गर्भवती हो गई तो पूरे मामले की जानकारी नाबालिक युवती के परिजनों को हुई और जिसके बाद परिजनों ने युवती से पूरा घटनाक्रम जाना

युवती ने अपनी पूरी दुख भरी दास्तां परिजनों के सामने रखी जिसके बाद आनन-फानन में परिजन युवती को लेकर चरथावल थाने पहुंच गए और गांव के तीनों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप की तहरीर देते हुए थाने में मुकदमा दर्ज कराया , परिजनों ने पुलिस से कार्रवाई की मांग की है। चरथावल पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया है और अब पूरे मामले में कार्रवाई करने की भी बात कह रही है लेकिन अब सवाल इस बात का है कि आखिर यूपी में कब तक युवतियों की अस्मत ऐसे ही लुटती रहेगी , आखिर कब तक यूपी में युवतिया होंगी सुरक्षित…?

Input By:Komal Sharma

 

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*