मथुरा : वीआईपी ओ के आने से कहीं फीकी ना हो जाए बरसाना लठामार होली की उमंग

मथुरा के बरसाना में खेली जाने बाली होली को लेकर एक तरह तो प्रशासन तैयारियों में जुटा  है और दूसरी तरह सीएम के कार्यक्रम को लेकर स्थानीय लोगों में नाराजगी दिखाई दे रही है।

आमजनमानस के लिए बंद कर दिया जायेगा मंदिर 

विश्व प्रसिद्ध बरसाना की लठामार होली के कार्यक्रम में सीएम योगी के आने को लेकर लोगों में खुशी तो है लेकिन उससे ज्यादा इस बात की चिंता भी सता रही है कि कस्बे में स्वंय सीएम और उनकी कैबिनेट के साथ कई प्रदेशों के मुख्यमंत्री भी मौजूद रहेंगे ऐसे में इन वीवीआईपी और वीआईपी की सुरक्षा के मद्देनजर कस्बे में स्थानीय लोगों और बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को परेशानी से दो-चार होना पड़ सकता है। सीएम योगी प्रसिद्ध श्रीजी मंदिर जायेंगे या नहीं अभी यह तय नहीं है लेकिन अनुमान लगाया जा रहा है कि यदि सीएम मंदिर के दर्शनों के लिए जाते हैं तो उस समय मंदिर को सुरक्षा घेरे में लेने के साथ ही आम पब्लिक के लिए मंदिर को बंद कर दिया जाएगा ऐसे में बाहर से आने वाले लाखों श्रद्धालुओं को दर्शनों के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं लठामार होली का मुख्य कार्यक्रंम जिस रंगीली गली के रंगीली चैक पर होता है वहां भी वीआईपी और वीवीआईपी लोगों के बैठने के लिए पर्याप्त इंतजामात नहीं हैं। गली इतनी संकरी है कि इसमें होली के आयोजन के दौरान पैदल निकलना भी मुश्किल हो जाता है ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से प्रशासन व्यवस्थाओं को कैसे संभालता है यह देखना होगा।

22 फरवरी से बंद हो जाएगी बरसाना में वाहनों की एंट्री

बरसाना में 24 फरवरी को लठामार होली कार्यक्रम है लेकिन दो दिन पहले ही वाहनों का कस्बे में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। होली की व्यवस्थाओं को देखते हुए 22 फरवरी से ही वाहनों को बरसाना से करीब 5 किलोमीटर पहले रोक दिया जाएगा। वाहनों के लिए प्रशासन द्वारा पार्किंगस्थल का स्थान चिन्हित करने का काम चल रहा है जहां इन वाहनों को खड़ा कराया जाएगा। बता दें कि यहां की लड्डू और लठामार होली देखने के लिए देश के विभिन्न प्रान्तों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां पहुॅचते हैं ऐसे में यातायात व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने और नगर में भीड़ के दबाब को देखते हुए 22 फरवरी से बरसाना आने वाले वाहनों को नगर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। बरसाना से 5 किलोमीटर पहले ही वाहनों को पार्किंग स्थलों पर खड़ा कराया जाएगा और यहां से पैदल ही यात्रियों को बरसाना पहुॅचना होगा।

गाने-बजाने पर भी रहेगा प्रतिबंध, लेनी होगी परमिशन 

प्रशासन द्वारा सीएम योगी की सुरक्षा के लिए विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। डीएम और एसएसपी स्वंय तैयारियों की कमान संभाले हुए हैं और रोजाना बरसाना पहुॅचकर स्थलीय निरीक्षण भी कर रहे हैं। वहीं स्थानीय लोगों में योगी के आने की खुशी तो है लेकिन इस बात की चिंता भी सता रही है कि होली पर इतने वीआईपी की यहां रहते कहीं होली का उल्लास फीका ना रह जाए। कारण है कि सीएम योगी के आगमन को लेकर इस बार भंडारे और गाने-बजाने के कार्यक्रमों के साथ ही धर्मशालाओं और गेस्टहाऊसों में यात्री-श्रद्धालुओं के रुकने -ठहरने को लेकर विशेष दिशा निर्देश दिए जा रहे हैं। वीआईपी की सुरक्षा को देखते हुए जगह-जगह होने वाले संगीत के कार्यक्रमों पर रोक भी लगा दी गई है यदि कोई इस तरह के कार्यक्रम करता भी है तो उसे इसके लिए पहले से ही परमीशन लेनी होगी।  गौरतलब है कि बरसाना में होली की उमंग गाने-बजाने के साथ ही शुरु होती है और रसिकजनों के साथ ही बाहर से आने वाले श्रद्धालु थिरकते नजर आते हैं लेकिन जब गाने-बजाने के इन कार्यक्रमों पर ही पाबंदी लगाई जाएगी तो होली की उमंग तो फीकी पड़ना लाजमी है। इस सम्बन्ध में जब उपजिलाधिकारी गोवर्धन धीरेन्द्र प्रताप सिंह से बात की गई तो उन्हौने बताया माइक और लाउडस्पीकर बजाने पर हाईकोर्ट द्वारा रोक लगाई हुई है। 23 और 24 फरवरी को भजनसंध्या और डीजे आदि बजाने पर रोक लगा दी गई है। उन्हौने बताया कि यदि कोई भजनसंध्या करना चाहता है तो इसके लिए उसे परमीशन लेनी होगी।

ब्रज की होली के ये हैं मुख्य कार्यक्रम
 
23 फरवरी को बरसाना में लड्डूमार होली
24 फरवरी को बरसाना में लठामार होली
25 फरवरी को नंदगांव में लठामार होली
26 फरवरी को श्रीकृष्ण जन्मस्थान मथुरा पर लठामार होली
27 फरवरी को छड़ीमार होली, गोकुल
1 मार्च को होलिका दहन, फालैन का पंडा
2 मार्च को चतुर्वेदी समाज का डोला
3 मार्च को दाऊजी का हुरंगा
MATHURA SE Manish Chaudhary

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*